बॉलीवुड में पोर्नोग्राफी – फिल्म जगत की चमक दमक के पीछे का श्याह काला चेहरा

मायानगरी बॉलीवुड Bollywood में सब कुछ नकली है ऊपर से जितना सुंदर, आकर्षक एवं ग्लैमरस दिखता है यह अंदर से उतना ही घिनौना एवं काला है| शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति राज कुंद्रा (Raj Kundra) की पोर्नोग्राफी (Pornography) यानी अश्लील वीडियो बनाने के आरोप में गिरफ्तारी ने फिर से बॉलीवुड की चमक दमक के पीछे का घिनौना श्याह काला चेहरा सबके सामने ला दिया है|

बॉलीवुड पर अंडरवर्ल्ड से संबंध रखने एवं दाऊद एवं उनके गुर्गो के इशारे पर काम करने का आरोप लगता रहा है| फिल्मों के माध्यम से बॉलीवुड किस तरह से इस्लामिक विचारों को आगे बढ़ाता रहा है, यह सबके सामने है| हिंदू देवी – देवताओं, परंपराओं और रीतियों का मजाक उड़ाना, हिन्दुओ को दकियानुष दिखाना, ब्राह्मणों के प्रति नफरत फैलाना, भारतीय सामाजिक मूल्यों को निचा दिखाने का काम बॉलीवुड हमेशा से करता रहा है|

लेकिन फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय मृत्यु के बाद सबकुछ बदल गया| इस घटना के बाद से जो बॉलीवुड का जो घिनौना चेहरा सबके सामने आया यह वह चेहरा था जो जानते सभी थे, चर्चा सब करते थे लेकिन कभी सार्वजानिक रूप से सामने नहीं आया था|

सुशांत सिंह राजपूत की केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की जांच के दौरान सामने आया की किस तरह नशा यानी ड्रग्स का कारोबार बॉलीवुड में अपनी गहरी पैठ जमा चुका है और किस तरह बड़े से बड़ा सितारा नशे की गिरफ्त में है| बॉलीवुड नार्को टेरर की गिरफ्त में है|

हम सब ने देखा कि कैसे देह व्यापार एवं वेश्यावृति बॉलीवुड का हिस्सा बन गया है| ऐसी खबरे समय समय पर आती रहती है| लेकिन कुछ समय से देह व्यापार एवं वेश्यावृति के लिए छोटी बच्चियों एवं महिलाओं के ट्राफिकिंग यानी मानव व्यापार से भी बॉलीवुड के तार जुड़ते रहे है|

गंदा है पर धंधा है अब और नहीं

आज हर तरह की गंदगी एवं अपराध का नाम लीजिए उसका तार बॉलीवुड से कही न कहीं जुड़ ही जाता है| चाहे वह मनीलौंड्रीग का आरोप हो, अंडरवर्ल्ड से संबंध रखना हो, नक्सलियों से संबंध रखना हो, अर्बन नक्सल हो| पिछले कुछ समय से बॉलीवुड का नाम तेजी से नशे के कारोबार, देह व्यापार एवं वेश्यावृति, देह व्यापार एवं वेश्यावृति के लिए बच्चियों एवं महिलाओं का ट्राफिकिंग यानी मानव व्यापार से जुड़े है|  ताजा मामला है पोर्नोग्राफी यानी अश्लील वीडियो बनाने एवं वितरित करने का|

हम सबने देखा है की कैसे इस्लामिक एजेंडे को आगे बढ़ाना हो, हिंदू फोबिया हो, लव जिहाद हो, धर्मांतरण को बढ़ावा देना हो, जातीय वैमनस्य फैलाना हो, भारतीय सामाजिक एवं पारिवारिक मूल्यों पर हमला करना हो, अनैतिकता को आधुनिकता का चोला पहनना हो बॉलीवुड बढ़ चढ़ कर करता है| इसके पीछे वही पैसा है जो इन अपराधो से आता है और पैसे के बदले बॉलीवुड देश एवं समाज के दुश्मनों के एजेंडे को आगे बढ़ता है|

बॉलीवुड को गंदा है पर धंधा है की अब और अनुमति नही दी जा सकती| समाज एवं देश के हित में बॉलीवुड से इस गंदगी को दूर करना ही होगा|

 


More Related Posts

Scroll to Top